पेट में गैस का इलाज के 15 सफल घरेलू उपाय और आयुर्वेदिक नुस्खे

पेट में गैस का इलाज और उपाय : पेट में गैस की समस्या तब बनती है जब पाचन तन्त्र में हवा इकठ्ठी हो जाती हैं। गैस किसी को भी किसी भी समय बन सकती हैं। बदहजमी, एसिडिटी, कब्ज़, ज्यादा भारी तला हुआ मिर्च मसाले वाला खाना कुछ ऐसे कारण हैं जिनसे गैस बनती हैं। इसलिए गैस से छुटकारा पाने के लिए सबसे पहले आपको खाने पीने की आदतों में सुधार करना होगा। उसके बाद ही गैस का इलाज किया जा सकता हैं। हालाँकि गैस बनना और निकलना प्राकर्तिक प्रक्रिया होती हैं, लेकिन जब ये ज्यादा हो जाए तो कई रोगों का कारण भी बन जाती हैं। चलिए आज जानते हैं गैस के उपचार के घरेलू देसी और आयुर्वेदिक नुस्खे।

गैस बाहर निकलने की प्रक्रिया को देसी भाषा में पाद मारना करते हैं। और जब ये औरो के सामने आ जाए तो शमिंदगी का विषय भी बन जाता हैं। एक नार्मल इंसान दिन में 10 बार गैस बहार निकलता हैं। जो की नार्मल होती हैं। पर इसके ज्यादागैस  बनना परेशानी का शबब बन जाता हैं। गैस 2 तरह से बनती हैं। पहला जब हम कुछ खाने पीते हैं तो उसके साथ में हवा पेट में जाती हैं ये हवा ऑक्सीजन और नाइट्रोजन के रूप में अंदर आती हैं जो गैस बनाती हैं। दूसरा जब पेट में खाना सही से हजम नहीं होता तब वह गैस का निर्माण शुरू हो जाता हैं।

पेट में गैस का इलाज उपाय घरेलू नुस्खे

पेट में गैस का इलाज के घरेलू नुस्खे

Home Remedies for Gas in Hindi

1. सेब का सिरका

खाना हज़म सही से होने में सेब का सिरका एक कारगर नुस्खा हैं। जो पेट की गैस से छुटकारा पाने में भी मदद करता हैं। इसमें कई एंजाइम होते हैं जो हाजमा बेहतर करके गैस बहार निकालते हैं।

एक गिलास गर्म पानी में एक चमच्च सेब का सिरका मिलाये। अगर सिरके का स्वाद आपको ज्यादा ख़राब लगता हैं तो उसमे एक चमच्च शहद की भी मिलाये और उसे पिए। गैस ज्यादा हो तो दिन में 2 बार ऐसा करे।

2. जीरे का पानी

पेट की गैस में राहत पानी में जीरे के पानी एक जाना पहचाना घरेलू नुस्खा हैं। जीरे में ऐसा तेल होता हैं जो हमारी पेट की लार ग्रंथियों को उत्तेजित करके उनसे ऐसा लिक्विड का स्त्राव कराता हैं जो भोजन को सही से हजम करने में हेल्प करता हैं। जिससे पाचन तन्त्र में अतिरिक्त गैस बनने से बचाव होता हैं।

500 ml पानी में एक चमच्च जीरे के बीज डालकर उबाले। उबलने के बाद इसे थोड़ी देर ठंडा होने के लिए रख दे और खाने के 45 मिनट बाद इसे पिए।

3. कैमोमाइल चाय (chamomile tea)

पाचन संबधित पेट की समस्याओं में कैमोमाइल चाय का सेवन पुराने समय से किया जाता रहा हैं। इसके सेवन से पेट की मांसपेशीय शांत होती हैं और सही से काम करती हैं जिससे पाचन के समय बनने वाली फालतू गैस नहीं बनती।

इस होम रेमेडी को बनाने के तरीका आप अपनी रसोई में ही कर सकते हैं। एक कप पानी में कुछ कैमोमाइल पत्तिया डाले और use 5 से 10 मिनट के लिए पकाए। थोड़ी ठंडा होने के बाद उसमे थोडा शहद मिलाये और गर्म रहते ही उसे पीले। पेट में गैस बनने पर दिन में 2-3 बाद कैमोमाइल चाय को पिए।

4. बेकिंग सोडा

पेट की गैस से छुटकारा पाने में बेकिंग सोडा एक असरदार घरेलू उपाय हैं। बकिं सोडा में सोडियम बाईकार्बोनेट होता हैं जो एक ऐसा असरदार antacid होता है जिस एग्स बहार निकलती हैं। उसके सलवा बदहजमी के इलाज में भी ये मदद करता हैं। गैस का तुरंत इलाज करने के लिए इसमें निम्बू को भी मिला सकते हैं।

एक गिलास पानी में आधा चमच्च निम्बू रस और एक चमच्च बेकिंग सोडा पाउडर मिलकर पिए। निम्बू नहीं हैं तो खाली बेकिंग सोडा मिलकर भी पानी पिया जा सकता हैं। ध्यान रहे ज्यादा बेकिंग सोडा ना डाले, ये स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता हैं।

5. केला खाए

अगर आपको गैस की प्रॉब्लम होती रहती हैं तो अपनी रेगुलर डाइट में केले को भी शामिल कर ले। केले में काफी मात्रा में फाइबर और पोटाशियम होता हैं जो पेट के हाजमे में काफी फायदेमंद हैं। केले से मिलने वाला पोटाशियम पेट में सोडियम के लेवल को नियंत्रित करके गैस को बनने से रोकता हैं। डेली 1-2 केला खाए, इससे आपकी गैस के उपचार में काफी हेल्प मिलेगी।

6. अरंडी का तेल

जिन लोगो को कब्ज़ रहता हैं उन्हें उसके साथ गैस की शिकायत भी काफी रहती हैं। अरंडी का तेल कब्ज़ को जड़ से ख़त्म करने का काम करता है जिससे फिर गैस में भी फायदा पहुचता हैं। अरंडी के तेल को आप 2 तरीके से ले सकते हैं। अगर आपको इसके स्वाद से कोई दिक्कत नहीं होती तो इस तेल की एक चमच्च सीधा पीले। और अगर आपको सवाद सही नहीं लगता तो इसे फलो के रस के साथ मिलाकर भी पिया जा सकता हैं।

7. ग्रीन टी

आप सब ने ग्रीन टी के फायदों के बारे में तो सुना ही होगा। खासकर इसे पीने से वजन कैसे कम किया जाता हैं। पर उसके साथ में ग्रीन टी पीने से गैस के उपचार में भी मदद मिलती हैं। इस चाय के सेवन से पेशाब जायदा आता हैं और बॉडी में जमा अतितिक्त जल बाहर निकल जाता हैं जिससे पेट फूलना और भारीपन कम होता हैं। इससे हजम भी अच्छा होगा जिसे फिर गैस भी कम बनेगी। दिन में 2-3 बार ग्रीन टी पिए।

गैस बाहर निकालने के लिए नेचुरल डेटोक्स ड्रिंक

  • पेट में कई तरह के हानिकारक रसायन इकठ्ठे होते रहते हैं जिनसे पेट की कई समस्याओ जन्म लेती हैं जिनमे गैस भी एक हैं। ऐसे में इन नुकसानदायक टॉक्सिक पदार्थो को शरीर से बाहर निकालकर पेट साफ़ करना आवश्यक होता हैं । इन्हें बाहर निकालने के लिए आप अपने घर में ही होम रेमेडी तैयार कर सकते हैं।
  • इस नेचुरल ड्रिंक को बनाने के लिए आपको 2 सेब, 1 खीरा और 1 निम्बू चाहिए होगा।  खीरे और सेब के छिलके उतार कर इन्हें छोटे टुकडो में कटे और मिक्सी में डालकर इनका जूस बनाए। अब इस जूस में एक निम्बू निचोड़े और इसे रोज पिए जब तक गैस की प्रॉब्लम ठीक न हो जाए।
  • ये घरेलू ड्रिंक में पानी की मात्रा ऊच्च होती हैं और फाइबर से भरपूर भी होती हैं। इसके अलावा इसमें कई ऐसे गुण होते हैं जो पेट में कब्ज़ और गैस ख़त्म करने में सहायक होते हैं।

पेट की गैस का उपचार के आयुर्वेदिक नुस्खे

गैस का इलाज करने के लिए आयुर्वेदिक देसी नुस्खो की बात की जाए तो उसमे हींग का नाम सबसे उपर आता हैं। हींग एक गैस विरोधी औषधि हैं जो पेट में उन गट बैक्टीरिया के विकास को रोकते हैं जो पाचन क्रिया के समय गैस बनाते हैं।

हींग में एंटीस्पाज्मोडिक गुण होते हैं जो कब्ज़, एसिडिटी, गैस जैसे पेट के हाजमे से संबधित प्रॉब्लम को समाप्त करने में मदद करता हैं। आयुर्वेद में ये भी लिखा गया हैं हींग बॉडी में वता दोषा को नियंत्रण में रखता हैं। जिनके बढ़ने से गैस पैदा होती हैं।

हींग को आप केले पर छिड़कर खाए। या फिर एक गिलास गुनगुने पानी में एक चुटकी हींग पाउडर डालकर पिए। इसके साथ में हींग पाउडर में थोडा पानी मिलकर एक पेस्ट बनाए और उसे अपने पेट पर फैला ले। पूरी तरह सूखने पर पेट धोले।

पेट में गैस के उपाय : Tips for Stomach Gas in Hindi

  • तनाव और टेंशन हारमोंस असंतुलन पैदा करते हैं जिससे पाचन क्रिया सही से काम नहीं करती और गैस बनती हैं। इसलिए तनाव और टेंशन जितना हो सके कम ले।
  • गैस से बचने के लिए योगा और एक्सरसाइज को अपनी रोजाना की दिनचर्या का हिस्सा बनाए। रोज हल्का फुल्का व्यायाम जरुर करे।
  • कई बार पेट में गैस बनना ज्यादा नमक खाने का परिणाम होता हैं। इसलिए नमक का सेवन कम करे और उसके साथ में पोटाशियम युक्त खाने ज्यादा खाए जो सही सोडियम लेवल बनाकर गैस बनने से रोकेंगे।
  • अधिक मिर्च मसालों और भारी खानों से परहेज करे जिन्हें हज़म करने में परेशानी हो।
  • खाना चबा चबाकर और धीरे खाए। इससे खाना सही से हजम होगा और गैस कम बनेगी।

दोस्तों हम आशा करते हैं ये जानकारी पेट में गैस के इलाज उपाय :  Home Remedies for Gas in Hindi? से आपको फायदा मिलेगा। अगर कोई पाठक गैस की समस्या से जुड़ा कोई सवाल और सुझाव जानना चाहता हैं तो निचे कमेंट्स में लिखे।

Leave a Reply

error: Content is protected !!