प्रेगनेंसी

घर पर किट से प्रेगनेंसी टेस्ट से प्रेग्नेंट होने का पता कैसे करे

क्या आप ये जानने को मरे जा रहे हैं की आप प्रेग्नेंट हैं या नहीं? खासकर जब आपके पीरियड्स मिस हो गए हैं या फिर आपको अंदेशा हैं की आप गर्भवती हो सकते हैं।  ऐसे में घर पर ही प्रेगनेंसी टेस्ट करना सबसे आसान तरीका होता हैं। बाज़ार में कई तरह की प्रेगनेंसी टेस्ट किट मिल जाती हैं जिनकी कीमत भी उतनी ज्यादा नहीं होती। Prega News, Velocit, I-Can, Clear View कुछ ऐसी Pregnancy test Kit के नाम हैं जो भारत में प्रेगनेंसी जानने के लिए इस्तेमाल की जाती हैं। इनके रिजल्ट अधितकर सही ही होते हैं। इन प्रेगनेंसी किट में आपके पेशाब में HCG नाम के हारमोंस के उपस्थिति को जांचा जाता हैं उसी के आधार पर रिजल्ट पॉजिटिव या नेगेटिव निकलकर आते हैं। आज हम जानेंगे किट से प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करे।

Pregnancy Test Kit कैसे काम करती हैं?

घर पर ही प्रेगनेंसी का पता करने के लिए इस्तेमाल की जानी वाली प्रेगनेंसी टेस्ट किट में पेशाब की जांच की जाती हैं। यूरिन में HCG (human chorionic gonadotropin) हारमोंस के होने ना होने के आधार पर ही प्रेगनेंसी का पता लगाया जाता हैं। HCG हारमोंस उन कौशिकाओ से बना होता हैं जो प्लेसेंटा बनाने में मदद करती हैं। प्रेग्नेंट महिला के आखिरी आये पीरियड्स के 20 दिन बाद ही ये हारमोंस पेशाब में आ जाते हैं। इसके बाद तेज़ी से हारमोंस खून और पेशाब में बढ़ते जाते हैं।  जिन्हें हम पीरियड्स मिस होने के दिन भी प्रेगनेंसी किट की मदद से टेस्ट किया जा सकता हैं।

 

प्रेगनेंसी किट के नाम और कीमत (Price)

निचे कुछ ऐसे प्रेगनेंसी किट के नाम और कीमत दी गयी हैं जिनसे आप प्रेगनेंसी के शुरूआती दिनों में ही प्रेग्नेंट होने का पता कर सकते हैं। कुछ टेस्ट किट की सवेदनशीलता, समय और तरीका एक दुसरे से थोडा बहुत अलग हो सकता हैं। इसलिए टेस्ट करने से पहले किट पैक पर लिखी जानकारी पूरी तरह पढ़ ले।

pregnancy kit test कैसे करे

किट से प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करे : सही तरीका

टेस्ट करने से पहले प्रेगनेंसी टेस्ट करने का सही समय जानना जरुरी हैं। सुबह का समय सबसे उपयुक्त माना जाता हैं। क्यंकि रात को सोते समय खाना पीना नहीं होता हैं इसलिए गर्भवती महिला के सुबह के पेशाब में HCG के मात्रा सबसे ज्यादा होती हैं। और आपको टेस्ट पीरियड्स मिस होने से ठीक पहले या पीरियड मिस के ठीक बाद प्रेगनेंसी टेस्ट कर लेना चाहिए। चलिए अब जानते है प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका और सावधानिया।

  1. प्रेगनेंसी किट आम तौर पर फ्रिज में रखी जाती हैं। इसलिए टेस्ट करने से पहले ध्यान रखे किट का तापमान कमरे के तापमान के बराबर हो जाए हैं।
  2. अब एक प्लास्टिक या कांच के बर्तन में सुबह के समय पेशाब ले। ध्यान रखे वो बर्तन पूरी तरह साफ़ हो।
  3. अब प्रेगनेंसी टेस्ट किट से एक कार्ड निकाले और उसे एक समतल जगह पर रखे।
  4. अब किट के साथ आने वाले ड्रोपर की मदद से पेशाब की 3-4 बुँदे प्रेगनेंसी किट पर डाले और 5 मिनट तक रिजल्ट का इंतजार करे।

Pregnancy Test Result : Positive or Negative

आप प्रेग्नेंट नहीं हैं : अगर प्रेगनेंसी किट में रिजल्ट में बस एक ही गुलाबी लाइन नज़र आती हैं तो उसका मतलब आप गर्भवती नहीं हुई हैं।

आप प्रेग्नेंट हैं : प्रेगनेंसी किट के रिजल्ट में अगर 2 गुलाबी लाइन दिखे तो मुबारक हो आप गर्भवती हो गयी हैं।

अगर रिजल्ट में कोई भी गुलाबी लाइन ना नज़र आये तो उसका मतलब टेस्ट सही से नहीं किया गया हैं। ऐसे स्थिति में आपको दोबारा से नयी किट में टेस्ट करना होगा।

 

क्या प्रेगनेंसी टेस्ट में रिजल्ट गलत भी आ सकते हैं?

किट से किये गए टेस्ट में नेगेटिव रिजल्ट कई बार सही नहीं होते, ऐसा तब ज्यादा होता हैं जब आप टेस्ट करने में जल्दी कर देते हैं। अगर आपको प्रेगनेंट होने की उम्मीद हैं और पहली बार टेस्ट में रिजल्ट नेगेटिव आता हैं तो आपको 72 घंटे बाद फिर से एक बार टेस्ट कर लेना चाहिए।

जब पॉजिटिव रिजल्ट आता हैं तो उसके गलत होने की संभावना नेगेटिव आने के मुकाबले में कम होती हैं। गलत पॉजिटिव रिजल्ट होने का मतलब हैं आपके पेशाब में HCG हारमोंस होने का पता चला हैं पर फिर भी आप गर्भवती नहीं हैं। ऐसा तभी हो सकता हैं जब आपका प्रजनन ट्रीटमेंट चल रहा होता हैं जिसके वजह से HCG की उपस्थिति होती हैं। ऐसा तब भी हो सकता हैं जब शुरूआती miscarriage हुआ हो।

 

Pregnancy Test में Result Positive आने पर क्या करे?

अगर पीरियड्स के मिस होने के बाद प्रेगनेंसी टेस्ट में रिजल्ट पॉजिटिव आया हैं तो मुबारक हो, आपके घर में खुशखबरी आने वाली हैं। रिजल्ट के बाद आपको तुरंत अपने डॉक्टर से मिलना चाहिए। डॉक्टर शुरुराती जांच के बाद आपको अल्ट्रासाउंड की सलाह देगा जब आप 6-7 सप्ताह की गर्भवती हो जाओगे। डॉक्टर आपका ब्लड टेस्ट भी करा सकता हैं जिसमे आपके खून में HCG हारमोंस की मात्रा की जांच की जायगी। Ultrasound में गर्भाशय में प्रेगनेंसी की जांच की जायगी, जिससे आपको पता चलेगा की आप कितने दिन से प्रेग्नेंट हो। इसके अलावा आप एक बच्चे की माँ बनने जा रहे हो या जुड़वाँ बच्चे पैदा होंगे, इसका भी पता चल जायगा।

Pregnancy Confirm हो जाने के बाद अब समय आ जाता हैं माँ को खुद का पूरा ख्याल रखने का। खाने पीने के पूरा ध्यान रखे, शराब और तनाव से दूर रहे। इसके अलावा प्रेगनेंसी में डॉक्टर की सलाह से जरुरी विटामिन्स भी लेते रहे।

हिंदी में हेल्थ की इस जानकारी Pregnancy Kit से घर पर Test कैसे करे? के बारे में अपने सवाल निचे पूछे और प्रेगनेंसी टेस्ट को लेकर अपने सुझाव भी जरुर लिखे।

Leave a Comment

error: Content is protected !!